किसान संवाद

किसान संवाद


Title
  • टिड्डी दलों के नियंत्रण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश
  • कोविद -१९ के प्रसार को रोकना
  • मटन, चिकन, अण्डा और मछली खाने से कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं होता हैं !
  • पटना सहित राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में जंगली पक्षियों (कौओं) की असमय मृत्यु एवं स्वाईन फीवर के संबंध में आवश्यक सूचना !
  • लॉकडाउन अवधि में पशुपालन संबंधी गतिविधियों में आवश्यक मार्ग निदेश
  • COVID-19 (कोरोना वायरस) के कारण लॉकडाउन अवधि में किसानों एवं कृषि सेक्टर के लिए परामर्श
  • Advisory for farmers and farming sector during lockdown period due to COVID-19
  • सूअर पालन द्वारा जीविकोपार्जन
  • मुर्गी पालकों के लिए आवश्यक सुझाव
  • गौ एवं भैंस पलकों के लिए सलाह
  • Aarogya Setu - The fight against COVID-19
  • लाकडाउन के दौरान अपने आस -पड़ोस के पशु-पक्षियों की मदद करें |
  • किसानो की आर्थिक खुशहाली न्यूनतम समर्थन मूल्य के माध्यम से
  • कोविद -19 के कारण लॉकडाउन ( बंदी ) अवधी के दौरान किसानों और कृषि क्षेत्र के कृषि सलाह
  • मत्स्य पालको के लिए सलाह
  • धान बेचने के लिए अब भी निबंधन करा सकते हैं किसान
  • खुरपका- मुँहपका रोग से बचाव हेतु सलाह
  • मछली बिक्री में दिक्कत हो तो कॉल करे फोन
  • फसल कटाई कार्य को लेकर कृषि विज्ञान केंद्र जमुई ने दिया सुझाव
  • लॉकडाउन के दौरान किसानो को नहीं करना पड़ेगा परेशानी का सामना
  • चिकन खाने से शरीर में रोगो से लड़ने की क्षमता बढ़ती है !
  • एवियन इन्फ्लुएंजा से बचाव हेतु सुझाव
  • लॉक-डाउन में चारा प्रबंधन दूध उत्पादन और वितरण में सावधानियां
  • Prevent the spread of Covid-19
  • कोरोना से बचाव के लिए, कटाई और थ्रेसिंग में बरतें सावधान
  • लॉक-डाउन में चारा प्रबंधन दूध उत्पादन और वितरण में सावधानियां
  • लॉक-डाउन में इन कार्यों पर नहीं है रोक
  • कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लॉकडाउन की स्थिति उत्पन्न हुई है उसमें कृषि और कृषि से जुड़े कार्य जैसे पशुपालन, मत्स्यपालन से संबंधित कार्य को लॉकडाउन से बाहर रखा गया है। - एन. सरवण कुमार, सचिव, कृषि-सह-पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग
  • वर्त्तमान में कोविद-१९ तथा पक्षियों के असामयिक मृत्यु ,बर्ड फ्लू तथा अन्य विषयों पर समेकित मार्ग निर्देश के संबंध में |
  • मछली, मांस, चिकन और अंडा खाने के संबंध में
  • पशु, पक्षी तथा मछलियों हेतू चारा / दाना की दुकानों तथा अण्डे, मुर्गी एवं मीट की दुकानें खुली रखने के संबंध में आवश्यक जानकारी